जीजीआइसी कमासिन की छात्राओं ने प्रधानाचार्य पर फीस के नाम पर अवैध वसूली का लगाया आरोप

राजकीय बालिका इंटर कॉलेज कमासिन की छात्राओं ने प्रधानाचार्य और उनके पति पर फीस के नाम पर अवैध वसूली का आरोप लगाया है। इसके साथ ही अन्य आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी से कार्रवाई की मांग की है।

सोमवार को कलेक्ट्रेट पहुंची छात्रा किरन मौर्य, खुशी मिश्रा, मधु देवी, आरती यादव, सुमन, खुशबू ने जिलाधिकारी को बताया कि प्रधानाचार्य ने प्रति छात्रा एडमिशन शुल्क 1470 रुपये वसूला, पर रसीद नहीं दे रहीं। संचायिका शुल्क मांगने पर चरित्र खराब करने की धमकी देती हैं। इसी तरह बोर्ड परीक्षा शुल्क, एनसीसी शुल्क, पंखा मरम्मत, फर्श बनवाने के लिए पैसा अलग लिया। परीक्षा में पास कराने के नाम पर फाइल शुल्क सहित अन्य उपक्रमों का शुल्क ले रही हैं। इस तरह एक छात्रा से लगभग 5 हजार रुपये की वसूली की जा रही है। साथ ही एक पत्रक पर स्वेच्छा से शुल्क देने का हस्ताक्षर बनवा रही हैं। छात्राओं के अभिभावकों का कहना है कि उन्होंने बीएसए व डीआइओएस को फोन से कई बार समस्याएं बताई, लेकिन उन्होंने संज्ञान नहीं लिया। जिलाधिकारी से कार्रवाई की मांग की है। उधर, प्रधानाचार्य हेमलता ने बताया कि कुछ छात्राएं विपक्षियों के साथ मिलकर उन्हें बदनाम करने की कोशिश कर रही हैं। वसूली के आरोप निराधार है।

——–

-कमासिन में अवैध उगाही का मामला संज्ञान में है। उन्होंने तीन सदस्यीय टीम जांच के लिए गठित की है। वह खुद मौके पर जाकर हकीकत देखेंगे। शिकायत सही हुई तो बख्शा नहीं जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Time limit exceeded. Please complete the captcha once again.

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker